Welcome to Shree Shanidham Trust

सिंह राशि LEO 2021

सिंह राशि 2020
सिंह राशि का राशि अधिपति सूर्यदेव वर्ष प्रारंभ में बुधदेव, बृहस्पतिदेव, शनिदेव और केतुदेव के धनु राशि पंचम भाव से गोचर कर रहे हैं। मंगलदेव वृश्चिक राशि चौथे भाव, शुक्र मकर राशि छठे भाव, चंद्रदेव कुंभ सप्तम भाव और राहुदेव मिथुन राशि ग्यारहवें भाव से गोचर कर रहे हैं।

सूर्यदेव वर्ष प्रारंभ में धनु राशि पंचम भाव में, 14 जनवरी मकर राशि छठे भाव में, 13 फरवरी कुंभ राशि सप्तम भाव में, 14 मार्च मीन राशि अष्टïम भाव में, 13 अप्रैल मेष राशि नवम भाव में, 14 मई वृषभ राशि दशम भाव में, 14 जून मिथुन राशि ग्यारहवें भाव में, 16 जुलाई कर्क राशि बारहवें भाव, 16 अगस्त सिंह राशि लग्न भाव, 16 सितंबर कन्या राशि दूसरे भाव, 16 अक्टूबर तुला राशि तीसरे भाव, 16 नवंबर वृश्चिक राशि चौथे भाव, 15 दिसंबर धनु राशि पंचम भाव से गोचर कर रहे हैं।

मंगलदेव वर्ष प्रारंभ में वृश्चिक राशि चौथे भाव में, 7 फरवरी 2020 धनु राशि पंचम भाव में, 22 मार्च मकर राशि छठे भाव में, 14 मई कुंभ राशि सप्तम भाव में, 18 जून मीन राशि अष्टïम भाव में, 16 अगस्त मेष राशि नवम भाव में, 10 सितंबर को मेष राशि में वक्री अवस्था में, 4 अक्टूबर को मीन राशि में वक्री अवस्था में अष्टïम भाव में, 14 नवंबर को मार्गी, 14 दिसंबर को मेष राशि नवम भाव से प्रवेश करेंगे।

बुधदेव वर्ष प्रारंभ में धनु राशि पंचम भाव, 13 जनवरी मकर राशि छठे भाव, 30 जनवरी कुंभ राशि सप्तमभाव, 17 फरवरी कुंभ राशि में वक्री, 10 मार्च कुंभ राशि में मार्गी, 7 अप्रैल मीन राशि अष्टïम भाव, 25 अप्रैल मेष राशि नवम भाव, 9 मई वृषभ राशि दशम भाव, 24 मई मिथुन राशि ग्यारहवें भाव, 18 जून मिथुन राशि में वक्री अवस्था, 12 जुलाई को मिथुन राशि में मार्गी, 2 अगस्त को कर्क राशि में बारहवें भाव, 17 अगस्त को सिंह राशि में लग्न भाव, 2 सितंबर कन्या राशि दूसरे भाव, 22 सितंबर तुला राशि तीसरे भाव में, 14 अक्टूबर को तुला राशि में वक्री अवस्था में, 3 नवंबर को मार्गी तुला राशि में, 28 नवंबर को वृश्चिक राशि चौथे भाव में, 17 दिसंबर को धनु राशि पंचम भाव में प्रवेश करेंगे।

बुधदेव 29 जनवरी को पश्चिम में उदय, 19 फरवरी को वक्री अवस्था में पश्चिम में अस्त, 3 मार्च को पूर्व में उदय, 23 अप्रैल पूर्व में अस्त, 16 मई पश्चिम में उदय, 22 जून वक्री अवस्था में पश्चिम में अस्त, 9 जुलाई वक्री अवस्था में पूर्व में उदय, 5 अगस्त पूर्व में अस्त, 1 सितंबर को पश्चिम में उदय, 20 अक्टूबर को वक्री अवस्था में पश्चिम में अस्त, 31 अक्टूबर को वक्री अवस्था में पूर्व में उदय, 26 नवंबर को पूर्व में अस्त, 

बृहस्पतिदेव 30 मार्च को मकर राशि छठे भाव में प्रवेश करेंगे। 14 मई को वक्री होंगे और वक्री अवस्था में 30 जून को धनु राशि में प्रवेश करेंगे। धनु राशि में 13 सितंबर को मार्गी होंगे और 20 नवंबर को पनु: मकर राशि में छठे भाव में प्रवेश करेंगे।
बृहस्पतिदेव 10 जनवरी 2020 को पूर्व में उदय

शुक्रदेव वर्ष प्रारंभ में मकर राशि छठे भाव में, 8 जनवरी कुंभ राशि सप्तम भाव में, 2 फरवरी मीन राशि अष्टïम भाव में, 28 फरवरी मेष राशि नवम भाव में, 28 मार्च वृषभ राशि दशम भाव, 13 मई वक्री अवस्था वृषभ राशि दशम भाव, 25 जून मार्गी वृषभ राशि दशम भाव में, 1 अगस्त मिथुन राशि ग्यारहवें भाव, 1 सितंबर कर्क राशि बारहवें भाव, 28 सितंबर सिंह राशि लग्न भाव, 23 अक्टूबर कन्या राशि दूसरे भाव और 16 नवंबर तुला राशि तीसरे भाव, 11 दिसंबर वृश्चिक राशि चौथे भाव से प्रवेश करेंगे।
शुक्रदेव 31 मई 2020 को पश्चिम में अस्त, 9 जून 2020 को पूर्व में उदित।

शनिदेव 24 जनवरी धनु राशि पंचम भाव से और 24 जनवरी को मकर राशि छठे भाव में प्रवेश करेंगे। 11 मई को शनिदेव को वक्री होंगे और 29 सितंबर को मार्गी होंगे।
शनिदेव 30 जनवरी 2020 को पूर्व में उदय

राहुदेव वर्ष प्रारंभ में मिथुन राशि ग्यारहवें भाव में गोचर कर रहा हैं। 23 सितंबर से वृषभ राशि दशम भाव से गोचर करेगा।

*   सिंह राशि वालों के लिए वर्ष 2020 संपूर्ण सफलता, मान -प्रतिष्ठïा और लाभ से भरा रहेगा।
*  इस वर्ष चिर अभिलाषित संपूर्ण इच्छाओं की पूर्ति होगी। पिछले वर्षों से चली आ रही अनावश्यक परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।
*  समाजिक मान-प्रतिष्ठïा बढ़ेगी। समाजिक सरोकार में वृद्धि होगी। 
*  कोर्ट-कचहरी के मसलें हल होंगे। 
*  इस साल वर्ष प्रारंभ में पंचम भाव में धनु राशि में पंचग्रही योग बहुत ही शुभ व लाभदायक फल प्रदान करेगा।
*  स्वास्थ्य उत्तम रहेगा। स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।
*  संतान संबंधी झंझटों से पीछा छुटेगा। संतान को अपने कार्यों में संपूर्ण सफलता का भी योग नजर आ रहा है।
*  संतान के कॅरियर, कारोबार और शिक्षा संबंधी मसलों में लाभदायक परिणाम प्राप्त होंगे।
*  देवाधिदेव शनिदेव के छठे भाव में गोचर करने से मां लक्ष्मी की कृपा बरसेगी।
*  आर्थिक परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।
*  कारोबार में मनोनुकूल सफलता मिलेगी।
* कॅरियर और कारोबार में विस्तार का अवसर मिलेगा।
* देश-विदेश में नये कारोबारी संबंध बनेंगे।
* लाभदायिक साझेदारी के कार्य प्रारंभ होंगे।
* कारोबार की दृष्टिï से सिंह राशि वालों के लिए यह वर्ष बड़ा ही भाग्यशाली रहेगा।
* साहस और पराक्रम में वृद्धि होगी।
* यदि आप नौकरी में है तो ग्रह नक्षत्रों की गणना का संकेत मिल रहा है कि मनोनुकूल प्रमोशन और स्थानांतरण की संभावना हैं।
* आर्थिक धनकोष में वृद्धि होगी।
*  मंगलदेव वर्ष प्रारंभ में वृश्चिक राशि में चौथे भाव से गोचर कर रहे हैं।
*  नवीन कारोबारी योजनाएं बनेगी। और यह योजनाएं सहजता से पूरी भी होगी।
*  उच्च पदाधिकारियों का मनोनुकूल सहयोग प्राप्त होगा।
*  11 मई से 29 सितंबर के बीच में शनिदेव वक्री अवस्था में गोचर करेंगे। इस दौरान थोड़ा सा सावधानी से काम करें। 
*  23 सितंबर से राहुदेव वृषभ राशि में दशम भाव से गोचर करेंगे।
*  किसी पर भी अंधा विश्वास नहीं करें। इस समय लोगों पर किया गया भरोसा आपके लिए नुकसानदायक रहेगा।
*  अपने चारों तरफ काम करने वाले सभी लोगों पर पैनी दृष्टिï रखें और मन का भेद किसी को न बताएं।
* और यह समय स्वास्थ्य के दृष्टिïकोण से सावधानी का संकेत दे रहा है।
* इस दौरान यदि आप नौकरी में है तो अपने कार्य के प्रति लापरवाही न बरतें।
* व्यापार करते हैं तो बिना बुजुर्गों की सलाह बगैर कोई फेरबदल न करें।
* इस समय बनते हुए कामों में रुकावट आएगी।
* अनावश्यक खर्चा बढ़ेगा। और कारोबार में भी तंगी रहेगी।
* इसके बाद का समय आपके लिए शुभ व लाभदायक रहेगा।
* शत्रु षडयंत्र से पीछा छुटेगा।
* कठिन परिश्रम और कड़ी मेहनत का मनोनुकूल परिणाम प्राप्त होंगे।
* मान-सक्वमान में वृद्धि होगी। राजनैतिक वर्चस्व बढ़ेगा।
* प्रतिष्ठिïत व ख्याति प्राप्त लोगों से जन संपर्क बढ़ेगा जो बहुत लाभकारी रहेगा।
* दांपत्य सुख में वृद्धि होगी।
* शादी-विवाह के मसलें निपटेंगे।
* बिगड़े हुए कार्यों में सुधार होगा।
* सरकारी समस्याओं से पीछा छुटेगा।
* और स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।
* विवादित सौदों में पूंजी निवेश न करें।
* कानूनी दायरों का उल्लंघन न करें।
* पारिवारिक सदस्यों के साथ तालमेल बनाकर रखें। व्यर्थ के तनाव से बचें।
* अपने अत्याधिक आत्मविश्वास और क्रोध पर काबू रखें।
* शिक्षा के दृष्टिïकोण से यह साल विद्यार्थियों के लिए लाभदायक व बड़ा ही उत्तम रहेगा।
* इस वर्ष अनावश्यक यात्राएं बहुत करनी पड़ेगी जिसका कोई लाभ नहीं मिलेगा।
* परंतु कुल मिलाकर सिंह राशि वालों के लिए सन्ï 2020 लाभ व सफलता से भरा रहेगा।
* थोड़ी सी मेहनत व सफलता आपके कदम चूमेगी।
* बस, आपको एकाग्रता बनाकर रखनी है। व्यर्थ के भ्रम-भय, भ्रांति से दूर रहना है।
* छोटी-मोटी बातों में अपने आपको नहीं उलझाना है।
* यह वर्ष प्रगति और विकास का है और सफलता आपका इंतजार कर रही है।

आगे मैं आपको व्यवसाय, परिवार, युवा वर्ग, विद्यार्थी, यात्रा व स्वास्थ्य पर अलग-अलग विशेष रूप से जानकारी दूंगा। परंतु मेरा आपसे अनुरोध है कि मैं प्रजापिता ब्रह्मïा नहीं हूंं जो आपके भविष्य के बारे में सौ प्रतिशत भविष्य वाणी कर सकूं। मैं तो मात्र अपने निज अनुभव के आधार पर अपने अनुभव को आपके सामन बांटने आता हूं। संभव है, जो मैं कह रहा हूं उसमें कुछ कमी भी रह सकती है। आपको मेरे साथ नहीं रुकना चाहिए जो मैं कह रहा हूं वही पूर्ण सत्य है, इस पर अंधविश्वास नहीं करना चाहिए। इससे आपकी खोज  की यात्रा रुक जाएगी। आपको अपना शोध जारी रखना चाहिए। इसी में आपका कल्याण है, इसी में आपका भला है। हां, एक बात का दावा जरूर करूंगा कि कर्म बदल सकते हैं ग्रहों की दशा और दृष्टिï दोनों ही। कर्म ही करेंगे आपका कल्याण। कर्म सुधारो, मां-बाप की सेवा करो। पति-पत्नी धर्मानुकूल आचरण करो। और इस राष्टï्र के प्रति वफादारी और अपना कर्तव्य निभाते हुए इस महान कल्याणकारी महामंत्र ú शं शनैश्चराय नम: मंत्र का जाप करो, आपका भला होगा।

कारोबार व कॅरियर के दृष्टिïकोण से
* सिंह राशि वालों के लिए वर्ष 2020 कॅरियर और कारोबार के दृष्टिïकोण भरपूर खुशियां व सफलता का संकेत दे रहा है।
* वर्ष प्रारंभ में धनु राशि में पंचम भाव में पंचग्रही योग के प्रभाव से इस साल कारोबार से जुड़े लोगों के लिए बड़ा ही शुभ व लाभदायक रहेगा।
* वर्ष 2020 नवीन संभावनाओं का वर्ष नजर आ रहा है। यदि आप इस समय नया कार्य शुरू करना चाहते है तो आपके लिए शुभ रहेगा।
* कॅरियर और कारोबार के दृष्टिïकोण से देश-विदेश से नये कारोबारी संबंधों के साथ-साथ आपके मान-सम्मान में वृद्धि होगी। साथ ही कार्य मनोनुकूल सफलता से आर्थिक धनकोष में वृद्धि भी होगी।
* कारोबार में किये गये परिश्रम का पूर्ण फल प्राप्त होगा।
* आपके लिए द्वारा अपनायी गयी नयी कारोबारी नीति सफलता में चार-चांद लगायेगी।
* जनवरी, फरवरी मार्च व जुलाई, अगस्त, सितंबर, अक्टूबर, नवंबर तक ग्रह नक्षत्र यह भी संकेत दे रहे हैं कि इस वर्ष कॅरियर, कारोबार, नौकरी में आपको विशेष उपलब्धि प्राप्त होगी। 
* ग्रह नक्षत्रों की वजह से आपकी सकारात्मक शैली आपके त्वरित निर्णय कॅरियर, कारोबार, नौकरी में मनोनुकूल लाभ के संकेत दे रहे हैं। 
* साथ ही मनचाही भूमि-भवन और वाहन की प्राप्ति का प्रबल संकेत भी दिख रहा है।
* व्यवसाय में मनोनुकूल लाभ की प्राप्ति होगी।
* किये गये प्रयासों का सार्थक परिणाम प्राप्त होंगे।
* चल-अचल संपîिा का लाभ मिलेगा।
* भूमि-भवन वाहन में किया गया पूंजी निवेश लाभदायक रहेगा।
* इस बार व्यवसाय में अपनी योग्यता को दिखाने का सुअवसर भी आपको मिलेगा।
* मार्किट में आपके कार्यशैली की सराहना होगी।
* बैंके बैलेंस में उîारोîार वृद्धि के संकेत नजर आ रहे हैं।
* 23 सितंबर से राहुदेव दशम भाव वृषभ राशि में गोचर करेगा। यह समय थोड़ा सावधानी का रहेगा। इस दौरान विवादित सौदों से दूर रहें। 
* और कोई भी कार्य बुजुर्गों की सलाह के बगैर नहीं करें।
* इस समय शेयर मार्किट, लॉटरी सट्ïटा जैसे सौदों से अपने आपको दूर नहीं रखा तो मोटा नुकसान हो सकता है।
* राहु के राशि परिवर्तन के बाद मुझे एक बात आपसे जरूर कहनी है यदि इन उपलब्धियों का झूठा नशा अपने सिर पर चढ़ा दिया या यूं कह सकते हैं कि अहंकार की पोटली अपने सिर पर रख दी तो यह सफलता असफलता में बदलने में देरी नहीं लगेगी। इस बारे में आपने यदि सावधानी बरती
* व्यवसायिक प्रतिद्वंदी इस वर्ष आपको पकड़ नहीं पाएंगे।
* नौकरी में भी सफलता मिलेगी। पदोन्नति की संभावना है। 

मेरी सलाह मानो या ना मानो
1. सिंह राशि वाले वर्ष 2020 में कारोबार संबंधी परेशानियों के निवारण के लिए प्रात:काल नित्यक्रम से निवृत्तहो स्नानोपरांत अपने पूजा स्थान में चौमुखा गाय के घी का दीपक जलाएं। शुद्ध आसन पर बैठकर आदित्य हृदय स्तोत्र के 5 पाठ करें।
2. मांस और मदिरा का सेवन न करें।
3. हर रोज भगवान सूर्य को जल अवश्य अर्पित करें।
4. कॅरियर, कारोबार व परिवार संबंधी परेशानियां के निवारण के लिए श्रद्धानुसार जौ का आटा, गेहूं का आटा, उड़द की दाल का आटा लें। इन तीनों को मिलाकर आटा गूंथकर लोई बनाएं इस लोई में श्रद्धानुसार गुड़ डालकर गाय को अपने हाथ से खिलाएं।

पारिवारिक दृष्टिïकोण से
*  सिंह राशि वालों के लिए वर्ष 2020 पारिवारिक दृष्टिïकोण से शुभ व मंगलमय रहेगा।
*  वर्ष प्रारंभ में जिस तरह के ग्रह योगायोग है शुरुआती महिनों में पारिवारिक स्थिति मनोनुकूल रहेगी।
*  बृहस्पतिदेव और शनिदेव की कृपा से पारिवारिक सामंजस्य और सौर्हाद्रपूर्ण वातावरण बना रहेगा।
*  भाई-बहनों का सहयोग प्राप्त होगा। और उनके सहयोग से अनावश्यक परेशानियों से छुटकारा मिलेगा।
*  यदि आपने इस वर्ष पारिवारिक जरूरतों पर ध्यान दिया तो आपके परिवार का समाज में वर्चस्व बढ़ेगा।
* दांपत्य सुख अनुकूल रहेगा। 
* जीवन साथी का पूर्ण सुख प्राप्त होगा।
* घर में शादी-विवाह संबंधी मंगल कार्य संपूर्ण होंगे।
* पैतृक संपत्ति के मसलें निपटेंगे।
* इस वर्ष बृहस्पतिदेव और शनिदेव की अनुकूलता से घर में कोई शुभ व मांगलिक कार्य संपन्न होने की संभावना नजर आ रही है।
*  मार्च से लेकर जून तक पारिवारिक सदस्य माता-पिता, वृद्ध जनों के स्वास्थ्य में लापरवाही न बरतें।
*  हालांकि गणनायें यह भी संकेत दे रही है पिछले कई दिनों से परिवार में चली आ रही परेशानियों से मुक्ति मिलेगी।
*  आपसी प्रेमभाव बढ़ेगा। पारिवारिक सदस्य, भाई-बहन या संतान के कॅरियर, कारोबार, शिक्षा आदि के मसलें हल होंगे। 
*  इस वर्ष पारिवारिक सदस्यों के सहयोग से समाज में आपका समाजिक सरोकार बढ़ेगा। और आपके सुयश में बढ़ोतरी भी होगी।
*  राहुदेव का एकादश और दशम भाव में परिभ्रमण पूर्ण सावधानी का संकेत दे रहा है। संकेत यह भी मिल रहा है कि पैतृक संपत्ति को लेकर पारिवारिक समस्या पैदा हो सकती है। 
*  धैर्य व संयम बरतना होगा। रिश्तों में सावधानी भी रखनी होगी। 
* रिश्तेदारों, मित्रों एवं ससुराल पक्ष के सदस्यों के साथ गलतफहमी उत्पन्न नहीं हो इस बात का विशेष ध्यान रखें।

* सब कुछ ठीक होने के बावजूद भी संतान पक्ष पर थोड़ा ध्यान देना होगा।
* परंतु पारिवारिक सदस्यों के सहयोग आपको बहुत जल्दी समस्याओं से छुटकारा भी मिल जाएगा।
* एक बात और कहना चाहता हूं, इस वर्ष ईश्वर ने आपको बहुत कुछ दिया है। 
* और आपके अपने  जरूरतमंद, भाई-बहन, रिश्तेदार आपसे सकारात्मक आस लगाएं बैठे हैं। उन्हें निराश मत करना।
* ईश्वर आपको और अधिक सफलता देगा।
फिर भी 
* 13 नवंबर से 27 दिसंबर के बीच में पारिवारिक सदस्य, मित्रों व ससुराल पक्ष के रिश्तों को लेकर थोड़ी सी सावधानी बरतनी पड़ेगी।
* किसी वृद्ध व्यञ्चित का स्वास्थ्य भी प्रभावित हो सकता है।

मेरी सलाह मानो या ना मानो
1. सिंह राशि वाले वर्ष 2020 में पारिवारिक समस्या के निवारण के लिए हर रविवार को नित्यक्रम से निवृत्त हो स्नानोपरांत सूर्योदय के समय ऊँ घृणि सूर्याय आदित्याय नम: मंत्र का 108 बार जाप करते हुए 108 गुलाब के पुष्प भगवान सूर्य को अर्पित करें। 


युवा वर्ग के दृष्टिïकोण से
* सिंह राशि वालों के लिए युवा वर्ग के लिए वर्ष 2020 अच्छा है। 
* नौकरी और वयवसाय के दृष्टिïकोण से शुभ व अनुकूल समाचार प्राप्त होंगे। 
* व्यवसाय व नौकरी के अच्छे साधन उपलब्ध होंगे।
*  प्रयत्नशील रहें, यह वर्ष हर दृष्टिïकोण से सफलता प्रदान करने वाला रहेगा। 
*  शादी विवाह के लिए यह वर्ष अति शुभ है।

मेरी सलाह मानो या ना मानो
1. सिंह राशि वाले युवा वर्ष 2020 में आने वाली अनावश्यक परेशानियों के निवारण के लिए नियमित हर गुरुवार गणपति के श्रीचरणों में गाय के घी का चौमुखा दीपक प्रज्जवलित करें। 

विद्यार्थी वर्ग के दृष्टिïकोण से
*  सिंह राशि वाले विद्यार्थियों के लिए यह वर्ष 2020 परीक्षा और प्रतियोगिता के दृष्टिïकोण से उत्तम रहेगा। किये गये प्रयासों के मनोनुकूल फल प्राप्त होंगे।
* भाग्य अनुकूल होने से परीक्षा और प्रतियोगिता में अनुकूल परिणाम प्राप्त होंगे। 
* वैसे मेडिकल, मेकैनिकल, इलेक्ट्रानिक, पॉलिटेक्रिक और मैनेंजमेंट के विद्यार्थियों के लिए यह साल सफलता से भरा हुआ है।
* यह अलग बात है कि थोड़ी सी मेहनत जरूर करनी पड़ेगी।
* हां, एक बात जरूर ध्यान रखें, रात्रि व्यर्थ का भ्रमण व गलत संगत या हलकी सी चूक साल बर्बाद भी कर सकती है। इस बात का ध्यान रखें। 

मेरी सलाह मानो या ना मानो
1. सिंह राशि वाले विद्यार्थी वर्ष 2020 में शिक्षा में सफलता के लिए अध्ययन कक्ष में सिंह राशि का पिरामिड स्थापित करें।
2. प्रत्येक रविवार को श्रद्धानुसार गुड़ किसी गरीब निर्धन विधवा महिला को दान में दे।

स्वास्थ्य के दृष्टिïकोण से
*  सिंह राशि वालों के  लिए स्वास्थ्य के दृष्टिïकोण से वर्ष 2020 उत्तम रहेगा।
* देवाधिदेव शनिदेव वर्ष 2020 में मकर राशि छठे भाव में गोचर करेगा जिससे रोग, ऋण और शत्रु पक्ष की अनावश्यक परेशानियों से स्वत: ही छुटकारा मिल जायेगा। 
* ग्रह योगायोग की गणनाएं यह संकेत दे रही है किसी गंभीर बीमारी का संकेत नजर नहीं आ रहा है।
* हां, 30 मई से 30 जून 2020 के बीच में मौसमी बीमारियों से सावधान रहना होगा। 
* और वाहन आदि को सावधानी से चलाना होगा।
* वैसे इस वर्ष सिंह राशि के जातक-जातिकाओं का स्वास्थ्य के दृष्टिïकोण से शुभ रहेगा।
*  परंतु राहुदेव का एकादश और दशम भाव में गोचर यह भी संकेत दे रहा है कि यदि आपने इस वर्ष नशे आदि का सेवन किया, अनैतिक खान-पान रखा तो राहुदेव आपको प्रतिकूल परिणाम प्रदान कर सकता है।
*  इस वजह से घर के वृद्ध सदस्यों के स्वास्थ्य पर कुप्रभाव पड़ेगा और आपको भी अनावश्यक स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

मेरी सलाह मानो या ना मानो
1. सिंह राशि वाले वर्ष 2020 में स्वास्थ्य संबंधी परेशानी के निवारण के लिए सवा 5 रत्ती माणिक सूर्य के नक्षत्र दिन सोने में जड़वाकर अनामिका अंगुली में धारण करें। 
2. लगातार 11 रविवार श्रद्धानुसार जौ और गुड़ गौशाला में दान दें।

यात्रा के दृष्टिïकोण से
* सिंह राशि वालों के लिए यात्रा के दृष्टिïकोण से वर्ष 2020 अनुकूल रहेगा। 
* वर्ष पर्यत शुभ व मांगलिक कार्य एवं व्यावसायिक यात्राओं का दौर रहेगा। 
* छोटी-मोटी यात्राएं वर्ष भर लगी रहेगी। 
* परंतु इन यात्राओं का कोई विशेष उपलद्ब्रिध की प्राप्ति नजर नहीं आ रही है।  
*  परंतु इस वर्ष उत्तर और पश्चिम दिशा की यात्रा में थोड़ी सावधानी बरतनी पड़ेेगी। 
* लापरवाही नुकसान दे सकती है।

क्या न करें 2020 में
* कभी-कभी अपको अपने साथ भी बैठना चाहिए। स्वालोकन व स्वा-ध्याय करना चाहिए।
* अपनों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ नहीं करना चाहिए।
* अत्यधिक चतुराई असफलता का कारण बन सकती है। इस पर ध्यान देना चाहिए।

क्या उपाय करें 2020 में 
स्वास्थ्य में सुधार के लिए

* हर रोज नित्यक्रम से निवृîा हो स्नानोपरांत एक पाठ हनुमान बाहुक का अवश्य करना चाहिए।
* पक्षियों को दाना डालें व पानी रखें।
पारिवारिक सुख-शांति व बाधा निवारण के लिए
*  हर रोज रात्रि में 8 से 12 बजे के बीच में चौमुखा घी का दीपक जलाएं और सुंदरकांड का पाठ करें।
*  शिव उपासना व शिवलिंग पर षडाक्षरी मंत्र का जाप करते हुए जलाभिषेक करें।
* लाल धागे में तीन मुखी रुद्राक्ष गले में धारण करना शुभ फल देगा।
आर्थिक सुदृढ़ता के लिए
*  प्रतिदिन संकटमोचन हनुमाष्टïक का पाठ करना चाहिए। 
*  हर मंगलवार को श्रद्धानुसार गुड़ अपने ऊपर से 7 बार उसारकर किसी सफाई कर्मचारी विधवा महिला को दान दें।
*  व्यवसाय में विशेष रुकावट के लिए गरीब बच्चों की पढ़ाई में मदद करें। 

संपूर्ण समस्याओं के निवारण के लिए 12 मुखी ग्यारह दानें रुद्राक्ष लाल धागे में सोमवार के दिन शुभ महुर्त में धारण करें। स्वच्छता का ध्यान रखें।